Google Adsense:-

नमस्कार दोस्तों! मैं आप सभी स्वागत करते हैं। मैं आज आप सभी को गूगल ऐडसेंस से अप्रूवल कैसे लेना है और क्या करना है इन्हीं टॉप को मैं आप सभी के सामने क्लियर करूंगा कि कैसे अप्रूवल लिया जाए। अब गूगल ऐडसेंस एम अप्रूवल लेना आसान नहीं है क्योंकि गूगल अपने नए-नए नियमों को ऐड कर रहा है। अब ऐडसेंस सीएम अप्रूवल लेना बहुत ही कठिन हो गया है लेकिन आपके लिए मैं इसे आसान कर दूंगा कि कैसे 1 महीने के अंदर ही ऐडसेंस से approval लेना है। लेकिन ध्यान रहे कि यहां पर बताएगी सभी नियमों का यदि आप पालन करते हैं तो आप गूगल ऐडसेंस अप्रूवल ले सकते हैं यदि आप अप्रूवल लेने में थोड़ी बहुत गलती कर देते हैं तो आप को अप्रूवल लेने में बहुत ही अधिक समय लग जाएगा और आप हताश होकर वेबसाइट या यूट्यूब चैनल को मोनेटाइज नहीं कर पाएंगे। आखिर कौन से नियम 2021 में गूगल ऐडसेंस ने लाया है। मैं आप सभी को बारी बारी से एक एक नियम के बारे में बता दूंगा।


Wordpress और blogger:-

यदि आप वर्डप्रेस अथवा ब्लॉगर में हैं इससे कोई मैटर नहीं रखता क्योंकि उसके नियम दोनों के लिए ही समान है यदि आप ब्लॉगर पर हैं तो आपको अधिक वरीयता नहीं मिल सकती ऐसी कोई बात है नहीं है और ना ही वर्डप्रेस यूजर के लिए है लेकिन थोड़े बहुत बदलाव दोनों में हैं। थोड़ा ही परिवर्तन है इससे कोई भी हानि नहीं हो सकती और ना ही फायदा हो सकता है। 

Wordpress vs blogger:-

 वर्डप्रेस और Blogger में क्या अंतर है किस से कितना फायदा होगा और अधिक से अधिक बढ़ेगी। क्या वर्डप्रेस और अगर अलग-अलग है। जैसे लोगों का मानना है वैसे उसे मानते हैं लेकिन मैं आप सभी को आज वर्डप्रेस और ब्लॉगर में क्या अंतर है मैं आप सभी को बताऊंगा कि उस में क्या अंतर है। वैसे तो कोई खास अंतर नहीं है लेकिन वर्डप्रेस में पेड़ की जाती हैं और ब्लॉगर में बिना किसी पेट के आप अपने साइड को होस्ट कर सकते हैं। वर्डप्रेस में आप हमेशा एक को चाहे जैसे ही कस्टमाइज कर सकते हैं लेकिन आप ब्लॉगर में अपने साइट को अपनी इच्छा अनुसार कस्टमाइज नहीं कर सकते हैं। 

Blogger:-

यदि आप एक ब्लॉगर है तो उसके बारे में आप जरूर जानते होंगे क्योंकि ब्लॉगर अपनी होस्टिंग को सभी लोगों को बिल्कुल फ्री देता है क्योंकि गूगल की साइट है इसलिए गूगल अपने प्रोडक्ट को फ्री में देने की कोशिश करता है इसलिए ब्लॉगर में किसी भी hosting की आवश्यकता नहीं होती है। ब्लॉगर में आप अपनी साइट को अपनी इच्छा के अनुसार यदि करना चाहते हैं तो कभी नहीं कर सकते क्योंकि आपको इसमें थीम जो लगाएंगे उसमें थोड़ा बहुत ही अंतर किया जा सकता है इसलिए आप वर्डप्रेस की अपेक्षा इस पर कम कस्टमाइजेशन के ऑप्शन दिए गए हैं। ब्लॉगर इस पर गूगल अपना खुद का नियम चलता है। 


Wordpress:-

यदि अब वर्ड पर इसके बारे में नहीं जानते हैं तो मैं आप सभी को पहले ही बता देता हूं कि यदि आप वर्डप्रेस पर हैं तो आपको मालूम होगा कि वर्डप्रेस पर हर छोटी बड़ी परिवर्तन की जा सकती है वह चाहे फोंट की हो या कलर की हो। कुछ भी आप वर्डप्रेस पर कर सकते हैं। लेकिन वर्डप्रेस पर जाने के लिए आपको होस्टिंग फ्री नहीं मिलेगी आपको उसके लिए होस्टिंग को बाय करना होगा। तभी आप wordpress पर जा सकते हैं। इसके बावजूद ही आप अपने वेबसाइट को क्रिएट कर सकते हैं wordpress की अपनी खुद की सेटिंग होती है। यदि आप वर्डपस में हैं तो आपका पोस्ट कैसे रैंक करें और कैसे लिखें और क्या करें और कैसे rank कराएं। इन सभी बातों को बतलाता है जबकि ब्लॉगर इसके विपरीत हैं वह आपको कुछ नहीं बताता कि आपको क्या करना चाहिए।

Wordpress aur blogger me kisme सबसे अधिक earning hogi:-

मैं आप सभी को बता देता हूं कि वर्डप्रेस और ब्राउज़र में कौन है ऐसा है जिससे अधिक earning होने के चांसेस होते हैं और कोई नहीं वर्डप्रेस है क्योंकि आप अपनी इच्छा अनुसार कहीं भी ऐड लगा सकते हैं इसमें कोई पाबंदी नहीं होती कि आप यही एक स्थान पर ऐड लगाएं इसलिए व्हाट्सएप में सबसे अधिकतम earning होती है।


Post Kaise likhe:-

यदि आप वर्डप्रेस और ब्लॉगर पर है तो आपको अधिकतम 600 शब्द के एक पोस्ट को लिखना चाहिए यह गूगल ऐडसेंस का पोस्ट लिखने का प्रथम नियम है। यदि आप अपने आर्टिकल में एक ही सबको बार-बार लिख रहे हैं तो आपको ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आप का आर्टिकल रैंक होने के अवसर कम हो जाते हैं। इसलिए पोस्ट को साफ सुथरा लिखें जिससे पढ़ने वाले यूज़र को बोलना लगे। आप अपने शब्द को कितने सही ढंग से व्यक्त करते हैं यही गूगल ऐडसेंस चेक करता है।


Privacy policy , disclaimer,about us and contact:--

वेबसाइट क्रिएट करने पर अथवा approval लेने से पहले चेक कर लें कि आपके वेबसाइट पर प्राइवेसी पॉलिसी डिस्क्लेमर अबाउट us बना हुआ है कि नहीं यह सभी बहुत ही जरूरी होते हैं इसलिए आप प्राइवेसी पॉलिसी डिस्क्लेमर को किसी भी साइट से जनरेट कर सकते हैं। 


Theme kaisa istemal kare:-

यदि आपके साइड क्रिएट किये हैं तो आप अपने साइट की सुंदरता बढ़ाने के लिए एक थीम की आवश्यकता होती है यदि आपने थीम को अपलोड करके छोड़ दिया है और उसे अच्छे ढंग से सही नहीं किया है तो गूगल ऐडसेंस अप्रूवल देने में बहुत ही अधिक समय ले सकता है इसलिए अपने साइड में एक theme जरूर लगाएं। थीम लगाना बहुत ही जरूरी होता है।


कितने पोस्ट पर approval मिलता है:-

यह सबसे अधिक मैटर करता है कि ऐडसेंस कितने पोस्ट पर अप्रूवल देता है इसके लिए आपको आपके साइड पर कम से कम 40 आजकल होने चाहिए इससे कम नहीं और यदि आप अपने साइट पर किसी एप रिव्यू से संबंधित आर्टिकल लिख रहे हैं तो गूगल ऐडसेंस आपको अप्रूवल कभी नहीं देगा इसलिए आप किसी एप्लीकेशन के बारे में ना लिखें।

Post a Comment

Previous Post Next Post