अयोध्या, । रामजन्मभूमि में रामलला के मंदिर निर्माण का काम तेज किया जाएगा। मंदिर निर्माण समिति की बैठक शनिवार को शुरू हुई। बैठक में तय किया गया कि राजस्थान के भरतपुर में संचालित राम मंदिर कार्यशाला से तराशे गये पत्थरों को शीघ्र अयोध्या भेजा जाए। बंशीपहाड़पुर के लाल बलुआ पत्थरों से प्रस्तावित मंदिर निर्माण के लिए पत्थरों की तराशी वहां कराई जा रही है।



यहां तराशे गये पत्थरों का आना भी शुरू हो गया है लेकिन अभी उनकी गति धीमी है। इसके लिए अतिरिक्त एजेंसियों को आमंत्रित कर उनमें कार्य विभाजन का फैसला किया गया। मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्र ने निर्माण कार्य का जायजा लिया। रामजन्मभूमि ट्रस्ट के न्यासी डा. अनिल मिश्र ने बताया कि मंदिर के फर्श को 21 फुट ऊंचा उठाने के लिए 16 हजार से अधिक पत्थर लगाए जा चुके हैं। अयोध्या में चल रही राम मंदिर कार्यशाला में भी बीम के करीब दो सौ ब्लाकों की तराशी का काम चल रहा है। 

Post a Comment

Previous Post Next Post