कहा, केजरीवाल की लोकप्रियता से डरकर परेशान कर रही भाजपा



दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर सीबीआइ की छापेमारी पर आम आदमी पार्टी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उसने छापेमारी के राजनीतिक मतलब निकाले हैं। आप नेताओं का कहना है कि भाजपा 2024 में आम आदमी पार्टी को चुनौती मान रही है। छापेमारी से साफ हो गया है कि 2024 का लोकसभा चुनाव नरेन्द्र मोदी बनाम अरविंद केजरीवाल होगा।


आप नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने प्रेसवार्ता कर भाजपा को घेरा। उन्होंने कहा कि छापेमारी से भाजपा ने संदेश दिया है कि देश में 2024 का लोकसभा चुनाव आम आदमी पार्टी बनाम भाजपा यानी मोदी बनाम केजरीवाल होगा। जब केजरीवाल गुजरात जाकर दिल्ली और पंजाब का माडल लागू करने की बात करते हैं, तो प्रधानमंत्री फ्री की रेवड़ी कहकर हमलावर हो जाते हैं। जब फ्री की रेवड़ी दोस्तों में बांटने की बात कही गई तो केंद्र ने सिसोदिया पर सीबीआइ की छापेमारी करा दी गई। छापेमारी की वही तारीख चुनी गई, जिस दिन न्यूयार्क टाइम्स के पहले पेज पर मनीष सिसोदिया की फोटो के साथ दिल्ली में शिक्षा क्रांति ki.

खबर छपी। उन्होंने कहा कि सिसोदिया के घर पर सीबीआई छापे का मकसद शराब नीति नहीं है, बल्कि सीएम केजरीवाल और उनके शिक्षा व स्वास्थ्य माडल को रोकना है। अगर शराब नीति मुद्दा होती तो गुजरात में भाजपा नेताओं द्वारा जहरीली शराब बनाने की जांच होती आप नेता गोपाल राय और राज्यसभा सदस्य राघवचड्ढा ने भी इसी तरह की बात कही। वे बोले, दिल्ली और पंजाब के बाद केजरीवाल पूरे देश की जनता के दिलों में बैठते जा रहे हैं। इसलिए भाजपा बदले की भावना से कार्रवाई कर रही है। आप नेता दुर्गेश पाठक ने आरोप लगाया कि केंद्र की भाजपा सरकार दिल्ली की आप सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है। 

सिसोदिया के आवास पर जुटे समर्थक


 दिल्ली: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर शुक्रवार सुबह शुरू हुई सीबीआइ की छापेमारी की सूचना मिलते ही आप कार्यकर्ता पहुंचने लगे थे। इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल थीं। समर्थकों ने मनीष सिसोदिया जिंदाबाद के नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन करने की कोशिश की, लेकिन पहले से बड़ी संख्या में मौजूद पुलिसकर्मियों ने रोक दिया। इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच कहासुनी भी हुई। कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।


Post a Comment

Previous Post Next Post